Follow Us On :

State PSC Exams

JPSC Complete Study Notes 2018

जेपीएससी ने राज्य सिविल सेवा 2016 के पीटी परीक्षा (Revised (PT) Result of Jharkhand State Civil Services Exam-2016, (Advt. No. 23/2016) का परिणाम 11.08.2017 को घोषित कर दिया है. आयोग के द्वारा जारी परीक्षा परिणाम में कुल 5138 अभ्यर्थी  सफल हुए हैं, जो निर्धारित रिक्त 326 पदों के मुकाबले 15 गुणा है. मिली जानकारी के अनुसार कोटिवार जो अभ्यर्थी पीटी परीक्षा में सफल हुए हैं वो इस प्रकार है. सामान्य श्रेणी में 2866 अभ्यर्थी सफल हुए हैं. एसटी के 1275 अभ्यर्थी सफल हुए. वहीं एससी के 608 सफल हुए. बीसी-1 में 359 और बीसी -2 में 30 अभ्यर्थी को सफल घोषित किया गया है. 

झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) द्वारा संचालित सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा (पीटी)-2016 के सफल उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा में शामिल होने के लिए अलग से अब कोई फॉर्म नहीं भरना होगा. उम्मीदवारों द्वारा पीटी से पूर्व भरे गये फॉर्म के आधार पर ही उन्हें एडमिट कार्ड निर्गत किये जायेंगे. उम्मीदवार को पीटी का रोल नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर व अपनी जन्म तिथि याद रखनी होगी. आयोग द्वारा एडमिट कार्ड डाउनलोड का लिंक दिये जाने पर उम्मीदवार को वांछित सूचना दिये जाने के बाद मुख्य परीक्षा का एडमिट कार्ड मिल सकेगा. पीटी में 5,138 उम्मीदवार सफल घोषित किये गये हैं.

जेपीएससी छठी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा की संभावित तिथि 25 मई से रखी गयी थी, जो टल गयी है. आयोग तिथि की घोषणा बाद में करेगा. मुख्य परीक्षा में चयनित अलग-अलग भाषा की परीक्षा अनिवार्य होगी. इसके अलावा कुल सात पेपर होंगे. जिसका पूर्णांक 1050 होगा. मुख्य परीक्षा के लिए रांची में ही 10 केंद्र बनाये जा रहे हैं. मुख्य परीक्षा में कुल पद से  तीन या चार गुणा अधिक उम्मीदवारों का चयन साक्षात्कार के लिए किया जायेगा. 

झारखंड लोक सेवा आयोग की ओर से 18.12.2016  को ली गई छठी सिविल सेवा परीक्षा का रिजल्ट 24.02.2017 को घोषित कर दिया था। जेपीएससी ने 326 पदों के विरूद्ध 5138 परीक्षार्थियों को पीटी परीक्षा में सफल घोषित किया था। अब मुख्य परीक्षा 15 मई से 9 जून तक आयोजित होनी थी। 326 पद के लिए परीक्षा ली गई थी। 1,04,000 अभ्यर्थी ने छठी सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवेदन किया था। 74,060 अभ्यर्थी जेपीएससी सिविल सेवा पीटी में शामिल हुए थे। बाद में मामला झारखंड हाईकोर्ट में गया. झारखंड हाईकोर्ट ने जेपीएससी को पीटी एग्जाम 2016 का संशोधित रिजल्ट अगले छह सप्ताह में जारी करने के ऑर्डर दिए। हाईकोर्ट ने देव कुमार की याचिका पर यह ऑर्डर 25.07.2017 को दिया है। कोर्ट ने कहा है कि जेपीएससी सरकारी नोटिफिकेशन के अनुरूप रिजल्ट जारी करे। यह कुल पदों की संख्या की पंद्रह गुणी होनी चाहिए। इस एग्जाम में कट ऑफ मार्क्स को लेकर विवाद चल रहा था।- जस्टिस एसएन पाठक की अदालत ने मंगलवार को इस संबंध में देव कुमार द्वारा दायर एक याचिका की सुनवाई के बाद यह आदेश दिया। साथ ही मामले को निष्पादित कर दिया।- याचिका में बताया गया था कि जेपीएससी ने गलत तरीके से पीटी परीक्षा के अभ्यर्थियों की कॉपी जांची है।- कम अंक वाले को मुख्य परीक्षा के लिए चुन लिया गया जबकि अधिक अंक लाने वाले भी छांट दिए गए। ऐसे में उस रिजल्ट को रद कर दिया जाए या फिर संशोधित रिजल्ट जारी किया जाए।

If you want comprehensive curriculum based study material, then "Develop India Group" will meet your needs in one place. We will also provide guidance for strategic preparation for the success in competitive exams. We have prepare the study materials by the analyzing the pattern of the last five years papers. So that we could include issues all important issues in the preparing of the study material. After analyzing the success of the past few years, we can say that Develop India Group is a top-tier institution, where 70-80 percent of questions are being asked by our study material. This is a major breakthrough for us and you can take edge over other competitors by the studying of Develop India Group study notes.

यदि आप व्यापक पाठ्यक्रम आधारित सम्पूर्ण अध्ययन सामाग्री चाहते हैं, तो डेवलप इंडिया ग्रुप एक ही स्थान पर आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगा। हम आपको प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए रणनीतिक तैयारी हेतु मार्गदर्शन भी प्रदान करेंगे। हम पिछले पांच वर्षों के प्रश्नपत्रों के पैटर्न का विश्लेषण करके पूरी अध्ययन सामाग्री को तैयार करते हैं। ताकि अध्ययन सामाग्री के निर्माण में हम सभी महत्त्वपूर्ण मुद्दों को शामिल कर सकें। पिछले कुछ साल की सफलता के विश्लेषण करने के बाद, हम यह कह सकते हैं कि डेवलप इंडिया ग्रुप एक शीर्ष स्तरीय संस्थान है, जहां 70-80 प्रतिशत सवाल हमारी अध्ययन सामाग्री से पूछे जा रहे हैं। यह हमारे लिए बड़ी सफलता है और आप डेवलप इंडिया ग्रुप की व्यापक अध्ययन सामाग्री का अध्ययन कर के अन्य प्रतियोगियों पर बढ़त हासिल सकते हैं।

Why should read Develop India Group Study Material?
डेवेलप इंडिया ग्रुप अध्ययन सामग्री को क्यों पढ़ना चाहिए?

1. Develop India Group (DIG) is India’s largest complete study materials provider website. (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) भारत की सबसे बड़ी अध्ययन सामग्री प्रदाता वेबसाइट है।)

2. Develop India Group (DIG) prepared their study materials in the guidance of highly qualified and experience mentoring specialist. (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) ने सुयोग्य और अनुभवी सलाह विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में अपनी अध्ययन सामग्री तैयार की है।)

3. Develop India Group (DIG) study materials have been prepared strictly according to revised syllabus. (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) अध्ययन सामग्री पूर्णतया संशोधित पाठ्यक्रम के अनुसार तैयार की गई है।)

4. Only aim behind preparing these study materials is to provide study material to those students, who are unable to attend coaching classes in mega cities. (इन अध्ययन सामग्रियों को तैयार करने का उद्देश्य केवल उन छात्रों को अध्ययन सामग्री प्रदान करना है, जो महानगरों में कोचिंग क्लासेस में भाग लेने में असमर्थ हैं।)

5. All kind of facts & data in this material have been collected from authentic sources. (इस सामग्री में सभी प्रकार के तथ्यों और डेटा को प्रामाणिक स्रोतों से एकत्र किया गया है।)

6. All kind of data is updated in quarterly in our study notes. (हमारी अध्ययन सामग्रियों में सभी प्रकार के आंकङों को तिमाही में अपडेट किया जाता है।)

7. Develop India Group (DIG) study materials have been prepared in simple language so that student can memorize easily and better understand. (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) अध्ययन सामग्री सरल भाषा में तैयार की गई है ताकि छात्र आसानी से और बेहतर ढंग से समझ सके।)

8. Complete syllabus of preliminary and main exam has been covered in this study material. (प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा का पूरा पाठ्यक्रम इस अध्ययन सामग्री में शामिल किया गया है।)

9. All important and relevant points have been highlighted in bold, underline and italic ways. (बोल्ड, रेखांकन और इटैलिक तरीके से सभी महत्वपूर्ण और प्रासंगिक बिंदुओं को हाइलाइट किया गया है।)

10. We have prepared our study materials with trained, talented, experienced team for each subject. They are supported by subject experts. (हमने प्रत्येक विषय के लिए प्रशिक्षित, प्रतिभाशाली, अनुभवी टीम के साथ और विषय विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में अध्ययन सामग्री तैयार की है।)

11. Once you will read these study materials, you will surely find 70 to 80 % questions in next coming examination. (एक बार जब आप ये अध्ययन सामग्री पढ़ लेंगे, तो आपको निश्चित रूप से आने वाली परीक्षा में 70 से 80% प्रश्न मिलेंगें।)

12. So BUY TODAY and secure your future. (इसलिए आज ही खरीदें और अपना भविष्य सुरक्षित करें.)

Study Notes Price : Combo Pack : 6500/-

Sample Covers of the Complete Study Notes




झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की परीक्षाओं में हुई धांधली की जांच सीबाआई करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को जांच का आदेश दिया। कोर्ट ने कहा है कि झारखंड हाईकोर्ट अब इस मामले की निगरानी नहीं करेगा। हालांकि कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि जांच पूरी होने तक जेपीएससी द्वारा नियुक्त किए गए अधिकारियों को सैलरी मिलती रहेगी। जून 2012 में झारखंड हाईकोर्ट के ऑर्डर के बाद सुप्रीमकोर्ट ने सीबीआई जांच पर स्टे लगा दिया था। बुद्धदेव उरांव ने यह हस्तक्षेप याचिका दायर की थी, जिसकी सुनवाई करते हुए नए निर्देश आए हैं। इससे छात्रों में खुशी है।

इन परीक्षाओं की CBI करेगी जांच

- 1st जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा (64 पद)

- 2nd जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा (172 पद)

- 3rd जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा, लेक्चरर नियुक्ति परीक्षा (750 पद)

- असिस्टेंट और जूनियर अभियंता नियुक्ति (335 पद)

- शिक्षक नियुक्ति परीक्षा (9735 पद)

- चिकित्सक नियुक्ति परीक्षा (1070 पद)

- डिप्टी रजिस्ट्रार नियुक्ति परीक्षा (02 पद)

- सहकारिता प्रसार पदाधिकारी परीक्षा (325 पद)

- बाजार पर्यवेक्षक परीक्षा (53 पद)

- राजकीय फार्मेसी संस्थान लेक्चरर नियुक्ति (07 पद)

मालूम हो कि जेपीएससी की ओर से सेकेंड जेपीएससी में बड़े पैमाने पर धांधली करते हुए चहेतों के रिश्तेदारों को डिप्टी कलेक्टर बनाया गया था। बड़े पैमाने पर पैसे का भी खेल हुआ था। इसके खिलाफ में हाईकोर्ट में रिट दायर हुआ था। हाईकोर्ट ने नियुक्त किए गए डिप्टी कलेक्टर के वेतन पर रोक लगा दी थी। इसके बाद नियुक्त किए गए डिप्टी कलेक्टरों ने सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दी थी।

JPSC Exam Pattern

The preliminary test will be of 200 marks on questions about Jharkhand. The total marks in paper two of the main exam (on language) have been increased to 150. The total number of students who will appear for both preliminary and main exams will be a maximum of 15 times the total vacancies.The main papers will have questions from English literature and grammar. The OMR sheets will be put up on the JPSC website after declaration of the final results.

JPSC Preliminary Exam Syllabus

PAPER - I : GENERAL STUDIES (100 Questions/200 Marks)

History of India
1. Ancient India
2. Medieval India
3. Modern India

Geography of India
1. General Geography
2. Physical Geography
3. Economic Geography
4. Social & Demographic Geography

Indian Polity & Governance
1. Constitution of India
2. Public Administration and Good Governance
3. Decentralization: Panchayats & Municipalities

Economic and Sustainable Development
1. Basic features of Indian Economy
2. Sustainable Development and Economic issues
3. Economic Reforms and Globalization

Science and Technology
1. General Science
2. Agriculture & Technologic Development
3. Information & Communication Technology

Jharkhand Specific Questions (General Awareness of its History, Society, Culture & Heritage)

National & International Current Events

General Questions of Miscellaneous Nature, not requiring subject specialization
1. Human Rights
2. Environmental Protection, Bio-diversity & Climate Change
3. Urbanization
4. Sports
5. Disaster Management
6. Poverty and Un-employment
7. Awards
8. United Nations and Other International Agencies

PAPER - II : GENERAL STUDIES (100 Questions/200 Marks)

A) History of Jharkhand  (8 Questions)1) Munda Administration (1 Question)2) Naagvanshi Administration (1 Question)3) Padha Panchyat Administration (1 Question)4) Manjhi Paragna Administration (1 Question)5) Munda Manki Administration (1 Question)6) Dhakli Sohor Administration (1 Question)7) Communal Panchayat Administration (1 Question)

B) Jharkhand Movement (7 Questions)1) Sadan of Jharkhand (1 Question)2) Tribes of Jharkhand (1 Question)3) Freedom Fighters of Jharkhand (1 Question)4) Significance of Jharkhand (2 Question)5) Jharkhand Movement and State Organizations (2 Questions)

C) Specific Identities of Jharkhand (5 Questions)1) Social Scenario (1 Question). 2) Cultural Scenario (1 Question).3) Political Scenario (1 Question).4) Economic Scenario (1 Question).5) Religious Specific identities (1 Question).

D) Folklore/Folk Literature, Dance, Musical instruments, Tourist Places, Tribal Culture of Jharkhand (5 Questions)1) Folklore/Folk Literature (1 Question). 2) Traditional Arts and Folk Dances (1 Question) 3) Folk Music and Instruments (1 Question)4) Tourist Places, Natural Archeological, Historical, Religious and Modern Places (1 Question)5) Scheduled Castes and Tribes and and their specialities (1 Question)

E) Literature and Authors of Jharkhand (5 Questions)

F) Important Educational institutions of Jharkhand (3 Questions)

G) Sports of Jharkhand (5 Questions)

H) Jharkhand Land Related Laws/Acts (12 Questions)1) Chhota Nagpur Tenancy (5 Questions)2) Santhal Paragna Tenancy (5 Questions) 3) Other State wise Acts (2 Questions)

I) History of Economic Development in 1947, Geography of Jharkhand- Forests, Rivers, Hills and Mountains, Mines and Minerals (10 Questions)

J) Industrial Policies of Jharkhand- Displacement and Rehabilitation and Other Policies (6 Questions)

K) Important Industries Their Name, Placeand Industrial Development (5 Questions).

L) Important Schemes and Subschemes(5 Questions)

M) Forest Management and Wild Life Animal Protection (5 Questions)

N) Climatic Facts, Climate Changes,Migration and Adoption of Jharkhand(7 Questions)

O) Disaster Management in Jharkhand(5 Questions)

P) Trivia and Current Affairs of Jharkhand(7 Questions)

JPSC Main Exam Pattern

There will be a total of 6 Papers in the Mains Exam on the following main categories as gien below:

Paper I: General Hindi and General English (High School Standard) 100 Marks

Paper II: Language and Literature (Out of the 9 Languages as specified for this- Hindi/ English/ Urdu/ Bangla/ Oriya and Sanskrit respectively) 150 Marks

Paper III: General Studies I (as per the syllabus of Paper I) 200 Marks

Paper IV: General Studies Paper II (Indian Constitution/ Polity/ Good Governance) 200 Marks

Paper V: General Studies II (Indian Economy, Globlisation and Sustainable development) 200 Marks

Paper VI: General Studies IV (General Science /Environmental & Technology Development) 200 Marks

The candidates who qualify in the written exam including Prelims and Mains shall be called to attend the Interview which is the final selection exam for the JPSC.

Interview: 100

What we will provide you in the study notes? 

1. Comprehensive study notes will cover entire topics mentioned in the Syllabus. 

2. Study notes for prelims exam will be based in “to the point format” and for main exam in the “descriptive format”. 

3. Study notes will divide in many volumes. 

4. Latest updated issue of economy also provide you. 

5. For practice Multiple Choice Questions (MCQs) will added in the last of each subject. 

6. Each important point will be bold, italic and underline in the entire contents. It will be help to you in reading. 

7. We will also provide you the gist of current affairs. 

8. Practice Papers test series will also available. 

9. For any kind of guidance and support from our experts, you can call us.

What kind of strategy needs for final selection?

Everyone asks oneself how we can become a civil servant. How to go about preparation? It is depends on how much time you have at your disposal. But lake of right direction we are unable to find wanted success in the competitive exam. In our view, for civil services exam needs at least 10 months of decent preparation. Actually time frame is not working same with each competitors, it is depends on the calibre of hard labour of study and gaining/memorise of the facts.

“Go through right direction, you shall find success”

“The blind study is very harmful for your career. It will neither help you in the prelims nor mains exam."

1. We can clear civil service exam in the first attempt, with positive mindset and a right strategy.

2. You need to know about the essential books and study materials/notes to crack the exams.

3. Before planning of preparation you should solving past 10 years question papers.

4. Go through the subject study with emphasis according to syllabus mentioned by the commission.

5. At least 4 months before prelims exam just start reading facts based study notes.

6. One month before appearing in the prelims exam test yourself through mock test papers.

7. Follow any two newspapers editorials regularly.

8. Read at least 3 competitive exams monthly magazines.

9. Listening radio and news channels daily.

10. Simultaneously start reading NCERTs from class 9th, 10th, 11th and 12th class.

11. For economic data must read Economic Survey, Special issues on Economy and PRS

12. Once you have gained decent enough knowledge, should start writing answers for main exam.

13. Basically you should give more attention on writing skill.


See Sample in the Videos



JPSC Prelims Exam Complete Study Notes available @ 3000/-

JPSC Main Exam Complete study notes (for Paper I, III, IV, V & VI)

available @ 4000/-

(For Subscribe Complete Study Notes Online)

Payment Option are: BHIM app BHIM | UPI app Rupay BHIM | Net Banking | ATM to ATM Transfer


ICICI BANK
  • ICICI BANK
  • A/C No. : 157105500244 (Current)
  • IFSC : ICIC0001571
  • Branch : Kareli, Allahabad
  • Beneficiary : Dheer Singh Rajput

UBI BANK
  • UBI BANK
  • A/C No. : 1001010097578 (Saving)
  • IFSC : UTBI0ALU539
  • Branch : Allahpur, Allahabad
  • Beneficiary : Dheer Singh Rajput

Bank of Baroda
  • Bank of Baroda
  • A/C No. : 22750100006086 (Saving)
  • IFSC : BARB0INDHAU
  • Branch : Hauzkhas, New Delhi
  • Beneficiary : Dheer Singh Rajput

After online payment fill up this form and send your address