Follow Us On :

State PSC Exams

MPPSC Complete Study Notes 2019

मप्र लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) से होने वाली प्रशासनिक अधिकारियों समेत अन्य भर्तियां अटकी हुई हैं। एमपीपीएससी द्वारा जनवरी में जारी की जाने वाली अधिसूचना अब तक जारी नहीं हुई है। ऐसे में उम्मीदवार आशंकित है कि दोबारा 20 साल पहले जैसी स्थिति न बन जाए, क्योंकि प्रदेश में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के उम्मीदवारों के लिए ओबीसी का आरक्षण 14% से बढ़ाकर 27% कर दिया गया है। इससे अब प्रदेश में आरक्षण 50% से अधिक यानी 73% हो गया है। इसके चलते सामान्य वर्ग के 4 उम्मीदवारों ने राज्य सरकार के इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दे दी है। हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को नोटिस जारी कर 3 सप्ताह में जवाब मांगा है। 

एडवोकेट आदित्य संघी ने बताया कि प्रदेश सरकार ने पहले 8 मार्च को अध्यादेश जारी कर ओबीसी आरक्षण 14 से बढ़ाकर 27% कर दिया, फिर एक्ट पारित कर दिया गया। वहीं, 10% आरक्षण इकोनॉमिकली वीकर सेक्शन (ईडब्ल्यूएस) के लिए लागू किया गया। एससी को 16%, एसटी को 20% आरक्षण है। ऐसे में आरक्षण 73% हो गया है, जबकि इंदिरा शाहनी बनाम भारत सरकार के प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट ने करीब 26 साल पहले अपने जजमेंट में कहा था कि कुल आरक्षण की सीमा 50% से अधिक नहीं हो सकती। ऐसा होना संविधान के खिलाफ है। जबलपुर हाईकोर्ट ने सुनवाई के बाद सरकार को नोटिस जारी कर तीन सप्ताह में जवाब मांगा है। इस मामले की 9 सितंबर को फिर से सुनवाई होगी। याचिका भोपाल के प्रत्येश द्विवेदी, टीकमगढ़ के पारस जैन, मुरैना के नीतेश जैन और छिंदवाड़ा के रामसुंदर रघुवंशी की ओर से दाखिल की गई है। 

दिग्विजय शासनकाल में भी ओबीसी आरक्षण 27% किया गया था। इस निर्णय को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई थी। इस दौरान सरकार की आेर से हाईकोर्ट में सही ढंग से जवाब प्रस्तुत नहीं किया गया, इसके चलते 2001 से 2005 तक भर्ती प्रक्रिया रुकी रही थी। इसके बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर ने 2006 में वापस ओबीसी आरक्षण कम किया था। इसके बाद लगातार भर्तियां हो रही थीं, लेकिन अब एक बार फिर एमपीपीएससी का कैलेंडर गड़बड़ा गया है। इससे लाखों युवा परेशान हैं। 

MP PSC State Services Main Exam 2018 had conducted from 23 July to 28 July 2018 at various exam centres across the state.  The result of the preliminary exam was declared on 18 February 2018. A total of 4907 candidates have been shortlisted for the main exam. The commission aims to fill 298 vacant posts in various government departments of Madhya Pradesh through this examination.

मप्र हाईकोर्ट ने एक अहम आदेश में कहा है कि परीक्षा सम्पन्न कराना एक लंबी प्रक्रिया है। इसके दौरान होने वाली छोटी-मोटी गलतियों से परीक्षा आयोजित करने के लिए अधिकृत अधिकारियों या संस्था की मंशा को दुर्भावनापूर्ण नहीं कहा जा सकता। इस मत के साथ जस्टिस संजय द्विवेदी की सिंगल बेंच ने मप्र पीएससी ( मप्र लोक सेवा आयोग ) प्रारंभिक परीक्षा 2018 के खिलाफ करीब 450 उम्मीदवारों की ओर से 93 याचिकाओं के जरिए दी गई चुनौती निरस्त कर दी है।

गोरखपुर जबलपुर निवासी कमलदत्त शर्मा, श्रुति श्रीवास्तव, आदर्श मिश्रा, सिद्धार्थ गौतम, उदयराज पांडे सहित अन्य की ओर से याचिकाएं दायर की गई थीं। इनमें कहा गया कि राज्य सिविल व फॉरेस्ट सेवा के लिए मप्र पीएससी की ओर से 21 फरवरी 2018 में आयोजित की गई प्रारंभिक परीक्षा में उन्होंने भाग लिया। प्रश्नपत्र में दिए गए कई प्रश्नों के वैकल्पिक उत्तर या तो गलत थे, या फिर मॉडल आंसर शीट में दिए गए उत्तरों से अलग थे। इसी गड़बड़ी को याचिकाओं में चुनौती दी गई थी।

एमपीपीएससी की ओर से तर्क दिया गया कि परीक्षा के बाद 3485 उम्मीदवारों ने इस गड़बड़ी की ओर इंगित करते हुए आयोग को आपत्ति दर्ज कराई। आयोग ने 7 सदस्यीय कमेटी गठित कर दी। कमेटी ने 12 मार्च 2018 को अंतिम संशोधित मॉडल आंसर शीट घोषित कर दी। आयोग ने 17 अप्रैल को प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम भी घोषित कर दिए। याचिकाओं में मांग की गई कि फिर से स्वतंत्र कमेटी का गठन कर उत्तरों का पुनर्निधारण किया जाए। नई मॉडल आंसर सीट के आधार पर पुनर्मूल्यांकन किया जाए। उन्हें मुख्य परीक्षा में शामिल होने दिया जाए।

सभी पक्षों को सुनकर कोर्ट ने 17 जुलाई को फैसला सुरक्षित कर लिया था। 21 जुलाई को निर्णय सुनाते हुए कोर्ट ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट की अन्य बेंच भी एमपीपीएससी परीक्षा 2018 के खिलाफ दायर विभिन्न याचिकाएं निरस्त कर चुकी हैं। लिहाजा कोर्ट क्षेत्राधिकार के बाहर नहीं जा सकती। याचिकाकर्ताओं की ओर से अधिवक्ता मनोज शर्मा, सिद्धार्थ सेठ, मनीष वर्मा ने व एमपीपीएससी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत सिंह, मानस वर्मा व अंशुल तिवारी ने पक्ष रखा।

Revised Study Notes Price : Combo Pack (Pre & Main both) : 7500/-

Sample Covers for errorfree, revised & updated study notes




Cut off marks (MPPSC Pre 2017)

UR/GENERAL : Male – 160 and female – 150

OBC : Male – 150 and female – 145

SC : Male – 149 and female – 138

ST : Male – 140 and female - 132

Selection Process/Exam Pattern

The combined competitive examination comprises two successive stages :

(1) State Services Preliminary Examination (Objective types) for selection of candidates for Main Examination.

(2) State Services Main Examination (written and interview) for selection of candidates for the various categories of services and posts.

Examination Timing

Timings for First Question Paper : From 10:00 AM to 12:00 PM

Timings for Second Question Paper : From 02:15 PM to 04:15 PM

MPPSC Preliminary Exam (CSAT based Syllabus)

The syllabus for Preliminary examination is given below :

FIRST PAPER: GENERAL STUDIES

1. General Science and Environment 
Questions on general science and Environment (Environmental Ecology, Biodiversity & Climate Change) will cover general appreciation and understanding of science including matters of every day observation and experience as may be expected of a well educated person who has not made a special study of any particular scientific discipline.

2. Current Events of National & International Importance 
In current events knowledge of significant National and International level will be tested.

3. History of India and Independent India 
In History, questions of general knowledge related to social, economic and political aspects will be asked. Also, there will be questions on Indian National Movement and Development of Independent India.

4. (a) Geography of India 
There will be questions of general knowledge relating to Physical, social and economic geography. It will also include questions on Indian Agriculture and Natural resources. There will be questions pertaining to demography and census of India.
(b) General Geographical awareness of world. 

5. Indian Polity and Economy 
Political system and constitution of the country, Panchayati Raj, social system, sustainable economic development, elections, political parties, plans, industrial development, foreign trade and economic and financial institutions.
 
6. Sports 
Important games and sports tournaments, Awards, personalities and Renowned Sports Institutions of M.P., India, Asia and World.
 
7. Geography, History and Culture of M.P. 
There will be questions related to the development of Mountains, rivers, climate, Flora and Fauna, Minerals transportation in the Geography of Madhya Pradesh . It will also have questions relating to important dynasties of M.P., Contribution of important dynasties in the Histroy & Culture of Madhya Pradesh, There will be questions on Tribals, Arts, Architecture, Fine Arts and Historical personalities of M.P.
 
8. Polity and Economy of M.P. 
Political system, Political parties and elections, Pachyati Raj, Social system and sustainable economic development of M.P.. This will also include questions on Industry, Plans, Economic programmes, business, demography and census of M.P.
 
9. Information and Communication Technology 
Questions pertaining to characteristics, uses, and terminologies such as website, online, search engine, e-mail, video mail, chatting, video conferencing, hacking, cracking, virus and cyber crime. 
 
10. Scheduled Caste & Scheduled Tribe (Prevention of Atrocities) 1989 (No.33 of 1989) and the Protection of Civil Rights Act, 1955 (No. 22 of 1955) 
 
11. The Protection of Human Rights Act, 1993. 
 
SECOND PAPER : GENERAL APTITUDE TEST 

 
1. Comprehension

2. Interpersonal skill including communication skill

3. Logical reasoning and analytical ability

4. Decision making and problem solving

5. General mental ability

6. Basic numeracy (numbers and their relations, order of magnitude etc.-Class X level) Data interpretation (charts, graphs, tables, data sufficiency etc.-Class X level)

7. Hindi Language Comprehension Skill (Class X level)
 
Note: - Question relating to Hindi Language Comprehension skill of Class X level will be tested through passages from Hindi language only without providing English Translation thereof in the question paper.

MPPSC Main Exam (Revised Syllabus)

There will be six question paper in this exam.

Sr. No. Paper Topic Marks Time Duration
1. Paper-I General Studies-I 300 03:00 Hours
2. Paper-II General Studies-II 300 03:00 Hours
3. Paper-III General Studies-III 300 03:00 Hours
4. Paper-IV General Studies-IV 200 03:00 Hours
5. Paper-V General Hindi 200 02:00 Hours
6. Paper-VI Essay & Unseen Passage 100 02:00 Hours
  TOTAL   1400



Combo (Prelims cum main) 4000/- For prelims Exam @ 2000/- and for Main Exam (revised) @ 2500/-


MPPSC Prelims Exam Revised Complete Study Notes @ 4000/-

MPPSC Main Exam Revised Study Notes (For all Papers) @ 4000/-

COMBO PACK (Prelims & Main both) @ 7500/-

(For subscribe, deposited amount in the a/c given below and send us your postal address, medium and transaction details at this whatsapp no +91 8756987953)

Payment Options are: Phone Pay BHIM| UPI app BHIM | BHIM app BHIM | Net Banking | ATM to ATM Transfer


ICICI BANK
  • ICICI BANK
  • A/C No. : 157105500244 (Current)
  • IFSC : ICIC0001571
  • Branch : GTB Nagar, Prayagraj
  • Beneficiary : Dheer Singh Rajput

Pay through
  • Phone Pay / Google Pay / Paytm

    at this no. 8756987953


Pay through UPI

157105500244@icici

OR

08756987953@icici


If you want comprehensive curriculum based study materials, then "Develop India Group" will meet your needs in one place. We will also provide guidance for strategic preparation for the success in competitive exams. We have prepare the study materials by the analyzing the pattern of the last five years papers. So that we could include issues all important issues in the preparing of the study material. After analyzing the success of the past few years, we can say that Develop India Group is a top-tier institution, where 70-80 percent of questions are being asked by our study material. This is a major breakthrough for us and you can take edge over other competitors by the studying of Develop India Group study notes.

यदि आप व्यापक पाठ्यक्रम आधारित सम्पूर्ण अध्ययन सामाग्री चाहते हैं, तो डेवलप इंडिया ग्रुप एक ही स्थान पर आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगा। हम आपको प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए रणनीतिक तैयारी हेतु मार्गदर्शन भी प्रदान करेंगे। हम पिछले पांच वर्षों के प्रश्नपत्रों के पैटर्न का विश्लेषण करके पूरी अध्ययन सामाग्री को तैयार करते हैं। ताकि अध्ययन सामाग्री के निर्माण में हम सभी महत्त्वपूर्ण मुद्दों को शामिल कर सकें। पिछले कुछ साल की सफलता के विश्लेषण करने के बाद, हम यह कह सकते हैं कि डेवलप इंडिया ग्रुप एक शीर्ष स्तरीय संस्थान है, जहां 70-80 प्रतिशत सवाल हमारी अध्ययन सामाग्री से पूछे जा रहे हैं। यह हमारे लिए बड़ी सफलता है और आप डेवलप इंडिया ग्रुप की व्यापक अध्ययन सामाग्री का अध्ययन कर के अन्य प्रतियोगियों पर बढ़त हासिल सकते हैं।

  1. Develop India Group (DIG) is India’s largest complete study materials provider website.
    (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) भारत की सबसे बड़ी अध्ययन सामग्री प्रदाता वेबसाइट है।)
  2. Develop India Group (DIG) prepared their study materials in the guidance of highly qualified and experience mentoring specialist.
    (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) ने सुयोग्य और अनुभवी सलाह विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में अपनी अध्ययन सामग्री तैयार की है।)
  3. Develop India Group (DIG) study materials have been prepared strictly according to revised syllabus.
    (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) अध्ययन सामग्री पूर्णतया संशोधित पाठ्यक्रम के अनुसार तैयार की गई है।)
  4. Only aim behind preparing these study materials is to provide study material to those students, who are unable to attend coaching classes in mega cities.
    (इन अध्ययन सामग्रियों को तैयार करने का उद्देश्य केवल उन छात्रों कोअध्ययन सामग्री प्रदान करना है, जो महानगरों में कोचिंग क्लासेस में भाग लेने में असमर्थ हैं।)
  5. All kind of facts & data in this material have been collected from authentic sources.
    (इस सामग्री में सभी प्रकार के तथ्यों और डेटा को प्रामाणिक स्रोतों से एकत्र किया गया है।)
  6. All kind of data is updated in quarterly in our study notes.
    (हमारी अध्ययन सामग्रियों में सभी प्रकार के आंकङों को तिमाही में अपडेट किया जाता है।)
  7. Develop India Group (DIG) study materials have been prepared in simple language so that student can memorize easily and better understand.
    (डेवेलप इंडिया ग्रुप (DIG) अध्ययन सामग्री सरल भाषा में तैयार की गई है ताकि छात्र आसानी से और बेहतर ढंग से समझ सके।)
  8. Complete syllabus of preliminary and main exam has been covered in this study material.
    (प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा का पूरा पाठ्यक्रम इस अध्ययन सामग्री में शामिल किया गया है।)
  9. All important and relevant points have been highlighted in bold, underline and italic ways.
    (बोल्ड, रेखांकन और इटैलिक तरीके से सभी महत्वपूर्ण और प्रासंगिक बिंदुओं को हाइलाइट किया गया है।)
  10. We have prepared our study materials with trained, talented, experienced team for each subject. They are supported by subject experts.
    (हमने प्रत्येक विषय के लिए प्रशिक्षित, प्रतिभाशाली, अनुभवी टीम के साथ और विषय विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में अध्ययन सामग्री तैयार की है।)
  11. Once you will read these study materials, you will surely find 70 to 80 % questions in next coming examination.
    (एक बार जब आप ये अध्ययन सामग्री पढ़ लेंगे, तो आपको निश्चित रूप से आने वाली परीक्षा में 70 से 80% प्रश्न मिलेंगें।)
  12. So BUY TODAY and secure your future.
    (इसलिए आज ही खरीदें और अपना भविष्य सुरक्षित करें.)

After online payment fill up this form and send your address